WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना 2024 – क्या है, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | PM Vishwakarma Kaushal Samman Yojana (PM-Vikas)

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना एक सरकारी योजना है जो पारंपरिक शिल्प और उद्योगों में काम करने वाले लोगों को आर्थिक सहायता और प्रशिक्षण प्रदान करती है। इस योजना का उद्देश्य पारंपरिक शिल्प और उद्योगों को बढ़ावा देना और इन क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों के जीवन स्तर में सुधार करना है।

Table of Contents

PM Vishwakarma Kaushal Samman Yojana (PM-Vikas)

योजना का नामपीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना
किसने घोषणा कीवित्त मंत्री निर्मला सीतारमण
कब घोषणा हुईबजट 2023-24 के दौरान
कब लांच हुई17 सितम्बर, 2023 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस
उद्देश्यविश्वकर्मा समुदाय के लोगों को ट्रेनिंग और फंड देना
लाभार्थीविश्वकर्मा समुदाय के अंतर्गत आने वाली जातियां
अधिकारिक वेबसाइटhttps://pmvishwakarma.gov.in/
टोल फ्री नंबर18002677777 and 17923

पीएम विश्वकर्मा योजना कब शुरू हुई?

पीएम विश्वकर्मा योजना 17 सितंबर, 2023 को शुरू हुई। इस योजना को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर लॉन्च किया था। इस योजना का उद्देश्य पारंपरिक शिल्पकारों और कारीगरों को कौशल और वित्तीय रूप से मजबूत करना है।

इस योजना के तहत, लाभार्थियों को 5 प्रतिशत ब्याज दर पर 3 लाख रुपये तक का लोन मिलेगा। इसके अलावा, उन्हें ट्रेनिंग की सुविधा भी प्रदान की जाएगी।

योजना के पहले चरण में, 10 लाख कारीगरों और शिल्पकारों को लाभान्वित किया जाएगा। योजना के लिए 13,000 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है।

PM Vishwakarma Kaushal Samman Yojana पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना क्या है?

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना भारत सरकार की एक योजना है जो पारंपरिक शिल्प और उद्योगों में काम करने वाले लोगों को आर्थिक सहायता और प्रशिक्षण प्रदान करती है। इस योजना का उद्देश्य पारंपरिक शिल्प और उद्योगों को बढ़ावा देना और इन क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों के जीवन स्तर में सुधार करना है।

PM Vishwakarma Yojana एक महत्वपूर्ण योजना है जो पारंपरिक शिल्प और उद्योगों को बढ़ावा देने और इन क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों के जीवन स्तर में सुधार करने में मदद करेगी। यह योजना भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत को संरक्षित करने और लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान करने में भी मदद करेगी।

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना उद्देश्य

  • पारंपरिक शिल्प और उद्योगों को बढ़ावा देना।
  • पारंपरिक शिल्प और उद्योगों में काम करने वाले लोगों के जीवन स्तर में सुधार करना।
  • लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान करना।

PM Vishwakarma Kaushal Samman Yojana Budget

योजना की कुल लागत 15,000 करोड़ रुपये है। यह लागत केंद्र सरकार और राज्य सरकारों द्वारा वहन की जाएगी। योजना की शुरुआत 17 सितंबर, 2023 को विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई थी।

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना लाभ

  • 15,000 रुपये की टूल किट सहायता: योजना के तहत, लाभार्थियों को अपने व्यवसाय को शुरू करने या बढ़ाने के लिए 15,000 रुपये की टूल किट सहायता दी जाएगी।
  • 3 लाख रुपये तक का ऋण: योजना के तहत, लाभार्थियों को 3 लाख रुपये तक का ऋण 5% की ब्याज दर पर दिया जाएगा।
  • प्रशिक्षण: योजना के तहत, लाभार्थियों को अपने कौशल को बढ़ाने के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा।

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना विशेषताएं

  • पारंपरिक शिल्प और उद्योगों को बढ़ावा देना: यह योजना पारंपरिक शिल्प और उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए डिज़ाइन की गई है। यह योजना इन क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों को कौशल विकास और वित्तीय सहायता प्रदान करके उनकी मदद करेगी।
  • पारंपरिक शिल्प और उद्योगों में काम करने वाले लोगों के जीवन स्तर में सुधार: यह योजना पारंपरिक शिल्प और उद्योगों में काम करने वाले लोगों के जीवन स्तर में सुधार करने के लिए डिज़ाइन की गई है। यह योजना उन्हें कौशल विकास और वित्तीय सहायता प्रदान करके उन्हें अपने व्यवसाय को शुरू करने या बढ़ाने में मदद करेगी।
  • लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान करना: यह योजना लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए भी डिज़ाइन की गई है। यह योजना उन्हें कौशल विकास और वित्तीय सहायता प्रदान करके उन्हें अपनी आजीविका चलाने में मदद करेगी।
  • 15,000 रुपये की टूल किट सहायता: योजना के तहत, लाभार्थियों को अपने व्यवसाय को शुरू करने या बढ़ाने के लिए 15,000 रुपये की टूल किट सहायता दी जाएगी।
  • 3 लाख रुपये तक का ऋण: योजना के तहत, लाभार्थियों को 3 लाख रुपये तक का ऋण 5% की ब्याज दर पर दिया जाएगा।
  • प्रशिक्षण: योजना के तहत, लाभार्थियों को अपने कौशल को बढ़ाने के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा।

कुल मिलाकर, पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना एक महत्वपूर्ण योजना है जो पारंपरिक शिल्प और उद्योगों को बढ़ावा देने और इन क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों के जीवन स्तर में सुधार करने में मदद करेगी।

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना ट्रेनिंग में मिलने वाली राशि

ट्रेनिंग के दौरान प्रतिदिन के अनुसार लाभार्थियों को 500 रूपये का अनुदान दिया जायेगा. और इसके अलावा उन्हें अपने टूलकिट को खरीदने के लिए 15,000 रूपये की सहायता राशि भी दी जाएगी.

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना में शामिल श्रेणी

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना में निम्नलिखित श्रेणियां शामिल हैं:

  • लोहार: लोहार धातुओं को बनाने, मरम्मत करने और आकार देने वाले कारीगर हैं। वे कृषि उपकरण, मशीनरी, फर्नीचर और अन्य वस्तुओं को बनाने के लिए लोहे और इस्पात का उपयोग करते हैं।
  • सुनार: सुनार सोने, चांदी और अन्य कीमती धातुओं से आभूषण और अन्य वस्तुएं बनाने वाले कारीगर हैं। वे इन धातुओं को पिघलाते हैं, उन्हें आकार देते हैं और उन्हें जटिल डिजाइनों में बनाते हैं।
  • कुम्हार: कुम्हार मिट्टी से बर्तन, खिलौने और अन्य वस्तुएं बनाने वाले कारीगर हैं। वे मिट्टी को गूँथते हैं, उसे आकार देते हैं और उसे सुखाने और पकाने के लिए भट्ठी में रखते हैं।
  • बढ़ई: बढ़ई लकड़ी से फर्नीचर, घरेलू सामान और अन्य वस्तुएं बनाने वाले कारीगर हैं। वे लकड़ी को काटते हैं, उसे आकार देते हैं और उसे जोड़ते हैं।
  • चर्मकार: चर्मकार जानवरों की खालों को चमड़े में बदलने वाले कारीगर हैं। वे खालों को साफ करते हैं, उन्हें रंगते हैं और उन्हें आकार देते हैं।
  • दर्जी: दर्जी कपड़े को सिलाई करके कपड़े और अन्य वस्तुएं बनाने वाले कारीगर हैं। वे कपड़ों को मापते हैं, उन्हें काटते हैं और उन्हें सिलाई करते हैं।
  • बुनकर: बुनकर कपड़े और अन्य वस्तुओं को बुनने वाले कारीगर हैं। वे सूत या अन्य सामग्री को एक साथ बुनते हैं।
  • धातुकर्मी: धातुकर्मी धातुओं को निकालने, उन्हें शुद्ध करने और उन्हें उत्पादों में बदलने वाले कारीगर हैं। वे धातुओं को पिघलाते हैं, उन्हें आकार देते हैं और उन्हें ठंडा करते हैं।
  • लकड़ी के कारीगर: लकड़ी के कारीगर लकड़ी से कलाकृतियों, सजावट और अन्य वस्तुएं बनाने वाले कारीगर हैं। वे लकड़ी को काटते हैं, उसे आकार देते हैं और उसे सजाते हैं।
  • पत्थर के कारीगर: पत्थर के कारीगर पत्थर से कलाकृतियों, सजावट और अन्य वस्तुएं बनाने वाले कारीगर हैं। वे पत्थर को काटते हैं, उसे आकार देते हैं और उसे सजाते हैं।

इन श्रेणियों के अलावा, योजना में अन्य पारंपरिक शिल्प और उद्योगों के कारीगर भी शामिल हैं।

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना ब्याज छूट

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना के तहत, लाभार्थियों को 3 लाख रुपये तक का ऋण 5% की ब्याज दर पर दिया जाएगा। यह ब्याज दर सामान्य रूप से उपलब्ध ऋण दरों की तुलना में काफी कम है। इस ब्याज छूट से लाभार्थियों को अपने व्यवसाय को शुरू करने या बढ़ाने में मदद मिलेगी।

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना में पात्रता

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना में पात्रता निम्नलिखित है:

  • आवेदक भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • आवेदक की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  • आवेदक पारंपरिक शिल्प और उद्योगों में काम करता होना चाहिए।
  • आवेदक के पास न्यूनतम 10वीं कक्षा की शैक्षिक योग्यता होनी चाहिए।

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना में एक परिवार से एक को मिलेगा लाभ

इस योजना के अंतर्गत, पंजीकरण और लाभ केवल एक परिवार के एक सदस्य तक ही सीमित रहेगा। इसके तहत, ‘परिवार’ का मतलब पति, पत्नी और अविवाहित बच्चों को समझा जाता है।

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना में दस्तावेज

  • आवेदन पत्र
  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • शैक्षिक योग्यता प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • व्यावसायिक प्रमाण पत्र (यदि लागू हो)

PM Vishwakarma Yojana Portal (gov in)

इस योजना के लाभार्थियों को इसका लाभ लेने के लिए रजिस्ट्रेशन करना होगा जिसकी जानकारी के लिए आपको इसकी अधिकारिक वेबसाइट में जाना होगा. इसकी अधिकारिक वेबसाइट की लिंक इस प्रकार है.

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना Registration Form

आपको इस योजना में रजिस्ट्रेशन करने के लिए रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरना होगा, जिसके लिए आप योजना की अधिकारिक वेबसाइट में जा सकते हैं. वहां से आपको how to register वाले विकल्प पर क्लिक करना है. और वहां से सारे स्टेप को फॉलो करेंगे तो आपको रजिस्ट्रेशन फॉर्म मिल जायेगा.

PM Vishwakarma Kaushal Samman Yojana Login

PM Vishwakarma Kaushal Samman Yojana (PMVKSY) के लिए लॉग इन करने के लिए, आपको निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा:

  1. PMVKSY की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  2. “Applicant/Beneficiary Login” टैब पर क्लिक करें।
  3. अपना उपयोगकर्ता नाम और पासवर्ड दर्ज करें।
  4. “Login” बटन पर क्लिक करें।

यदि आप पहली बार लॉग इन कर रहे हैं, तो आपको एक नया खाता बनाना होगा। ऐसा करने के लिए, आपको निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा:

  1. “Register” बटन पर क्लिक करें।
  2. अपना नाम, पता, संपर्क जानकारी और अन्य आवश्यक विवरण दर्ज करें।
  3. अपने आधार कार्ड और ई-श्रम कार्ड की प्रतियां अपलोड करें।
  4. “Submit” बटन पर क्लिक करें।

एक बार आपका खाता बन जाने के बाद, आप PMVKSY के लिए आवेदन कर सकते हैं। ऐसा करने के लिए, आपको निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा:

  1. “Apply” टैब पर क्लिक करें।
  2. अपना आवेदन पत्र भरें और आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें।
  3. “Submit” बटन पर क्लिक करें।

आपका आवेदन तब संबंधित अधिकारियों द्वारा सत्यापित किया जाएगा। यदि आपका आवेदन स्वीकृत हो जाता है, तो आपको योजना के लाभ प्राप्त होंगे।

PMVKSY के लिए लॉग इन करने के लिए आवश्यक विवरण इस प्रकार हैं:

  • उपयोगकर्ता नाम: आपका नाम या आधार कार्ड संख्या
  • पासवर्ड: आपके द्वारा चुनी गई एक मजबूत पासवर्ड

यदि आप अपना पासवर्ड भूल गए हैं, तो आप “Forgot Password” लिंक पर क्लिक करके इसे पुनर्प्राप्त कर सकते हैं।

PMVKSY की आधिकारिक वेबसाइट पर अधिक जानकारी प्राप्त करें: https://pmvishwakarma.gov.in/

PM Vishwakarma Kaushal Samman Yojana Apply Online

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना भारत सरकार की एक योजना है जो पारंपरिक शिल्प और उद्योगों में काम करने वाले लोगों को आर्थिक सहायता और प्रशिक्षण प्रदान करती है। इस योजना के तहत, लाभार्थियों को 15,000 रुपये की टूल किट सहायता, 3 लाख रुपये तक का ऋण 5% की ब्याज दर पर और प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।

योजना के लिए आवेदन करने के लिए, लाभार्थी को अपने राज्य के संबंधित विभाग की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। आवेदन के साथ, लाभार्थी को आवश्यक दस्तावेज अपलोड करने होंगे।

ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया निम्नलिखित है:

  1. अपने ब्राउज़र में, “PM Vishwakarma Yojana Portal” टाइप करें और एंटर करें।
  2. आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  3. “आवेदन करें” टैब पर क्लिक करें।
  4. आवश्यक जानकारी दर्ज करें, जैसे कि नाम, पता, संपर्क जानकारी, शैक्षिक योग्यता, व्यावसायिक अनुभव, आदि।
  5. आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें।
  6. आवेदन जमा करें।

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना स्टेटस चेक (Status Check)

  • यदि आप अपने रजिस्ट्रेशन की स्थिति के बारे में जानना चाहते हैं. तो आप इसकी अधिकारिक वेबसाइट में जाएँ.
  • इसके बाद आपको इसमें लॉग इन करना है फिर आप वेबसाइट के अन्दर पहुँच जायेंगे, जहाँ आपको स्टेटस चेक करने का विकल्प मिलेगा आपको उस पर क्लिक करना है.
  • फिर आपको अपना रजिस्ट्रेशन नंबर इंटर करना है और इसके अलावा जो भी जानकारी मांगी जाएगी उसे भरकर आप अपने रजिस्ट्रेशन की स्थिति की जाँच कर सकते हैं.

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना ताज़ा खबर (Latest News)

सरकार द्वारा इस योजना के लांच के साथ ही यह भी जानकारी दी गई है कि इस योजना को शुरुआत में देश के लगभग 70 स्थानों में लांच किया जा रहा है.

स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री मोदी जी ने विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना को लांच करने की घोषण की थी. और इसके अगले दिन कैबिनेट द्वारा मंजूरी दे दी गई. यह योजना 17 सितंबर विश्वकर्मा जयंती के दिन शुरू की जाएगी.

15-09-2023 Update: 11322 Application Form Submitted

07-09-2023 Update: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार को यह जानकारी दी है कि प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना को पेमेंट इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट फण्ड (PIDF) यानि भुगतान अवसंरचना विकास कोष के तहत शामिल होने और इस योजना को दो साल की अवधि के लिए विस्तार देने का निर्णय लिया गया है। गवर्नर ने द्विमासिक मौद्रिक नीति की घोषणा करते समय यह भी कहा कि अब पीआईडीएफ को 31 दिसंबर, 2025 तक बढ़ाने का प्रस्ताव है।

08-11-2023 Update: इस योजना के तहत कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय द्वारा सोमवार को प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरूआत कर दी गई है. यह प्रशिक्षण 6 नवंबर से 10 नवंबर तक चलेगा. इन पांच दिनों के प्रशिक्षण कार्यक्रम में दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, मध्य प्रदेश, पंजाब, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल और छत्तीसगढ़ सहित 10 राज्यों के लगभग 41 मास्टर प्रशिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जाना है.

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना मोदीजी के जन्मदिन पर शुरु हुई है

जैसा कि हमने आपको बताया कि प्रधानमंत्री विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना विश्वकर्मा जयंती के दिन शुरू हुई है, लेकिन इस दिन एक खास दिन और हैं और वह हैं हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का जन्म. जी हां इस साल की प्रधामंत्री मोदी के जन्मदिन पर शुरू की जाने वाले बड़ी योजना है. जिसका फायदा 30 लाख कामगारों को मिलेगा.

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना हेल्पलाइन नंबर

  • Telephone: 18002677777 and 17923
  • Email id: champions@gov.in
  • Contact No. : 011-23061574
होमपेजयहां क्लिक करें
अधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें

FAQ

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना की शुरुआत किसने की?

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

क्या कोई व्यक्ति जिसने PMEGP, PMSVA-Nidhi या PM-Mudra का लाभ उठाया है, वह पीएम विश्वकर्मा के लिए आवेदन कर सकता है?

जिन्होंने इन योजनाओं के तहत लोन के लिए आवेदन करने के बाद लोन चूका दिया है वे इसके लिए आवेदन कर सकते हैं. लेकिन यदि लोन चुकाना बकाया है तो उसे इसका लाभ नहीं मिल सकेगा.

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना में एक परिवार से कितने लोग आवेदन कर सकते हैं?

एक परिवार से केवल एक

पीएम-विकास योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के संबंध में सहायता प्राप्त करने के लिए मैं किससे संपर्क कर सकता हूं?

आप योजना के संबंध में किसी भी जानकारी के लिए अपने निकटतम सामान्य सेवा केंद्रों, एमएसएमई-विकास और सुविधा कार्यालयों (एमएसएमई-डीएफओ) या जिला उद्योग केंद्रों (डीआईसी) पर जा सकते हैं। आप चाहे तो pm-vishwakarma@dcmsme.gov.in पर लिख करके भी सहायता प्राप्त कर सकते हैं।

क्या मैं कौशल प्रशिक्षण कार्यक्रमों में भाग लिए बिना टूलकिट प्राप्त कर सकता हूँ?

नहीं, क्योकि बेसिक ट्रेनिंग की शुरुआत में ट्रेनिंग वेरिफिकेशन के बाद लाभार्थी को 15,000 रुपये टूलकिट के लिए प्रदान किए जाएंगे।

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना में किस तरह का कौशल प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है?

पारंपरिक कारीगरों और शिल्पकारों की क्षमताओं को बढ़ावा दिया जायेगा, जो पीढ़ियों से हाथों या पारंपरिक उपकरणों से काम कर रहे हैं। इसके लिए 3 श्रेणी होगी कौशल सत्यापन, बुनियादी कौशल और उन्नत कौशल आदि.

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना में ब्याज छूट कितनी दी गई है?

लोन के लिए लाभार्थियों से रियायती ब्याज दर 5% निर्धारित की गई है।

क्या मुझे इस योजना के तहत ऋण सुविधा प्राप्त करने के लिए कोई कोलैटरल देने की आवश्यकता है?

नहीं, कोई भी कोलैटरल सिक्यूरिटी की आवश्यकता नहीं है.

मुझे पीएम विश्वकर्मा के तहत ऋण की पहली किश्त पहले ही मिल गई है, अब मैं ऋण की दूसरी किश्त के लिए कब पात्र होऊंगा?

दूसरी किश्त उन कुशल लाभार्थियों के लिए उपलब्ध होगी जो एक स्टैण्डर्ड ऋण खाता रखते हैं और जिन्होंने अपने व्यवसाय में डिजिटल लेनदेन को अपनाया है या एडवांस्ड कौशल प्रशिक्षण प्राप्त किया है।

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना में ट्रेनिंग के दौरान कितना अनुदान मिलेगा?

500 रूपये प्रतिदिन

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना का हेल्पलाइन नंबर क्या है?

18002677777 and 17923

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना की ऑफिसियल वेबसाइट क्या है?

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना में आवेदन कैसे करें?

इसकी अधिकारिक वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करना होगा.

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना का लाभ किसे मिलेगा?

शिल्पकारों को

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना कब शुरू हुई?

बजट 2023-24 के दौरान

अन्य महत्वपूर्ण योजना

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजनापीएम किसान योजना 
नरेगा जॉब कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें?राष्ट्रीय वयोश्री योजना
छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री ज्ञान प्रोत्साहन योजनासुकन्या समृद्धि योजना
प्रधानमंत्री जन धन योजनापीएम मुद्रा योजना 
पीएम श्री योजनाप्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना
हरियाणा पराली प्रोत्साहन योजना यूपी पत्रकार आवास योजना
रोजगार संगम योजना पंजाब प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना
रोजगार संगम योजना हरियाणास्वाधार योजना महाराष्ट्र
रोजगार संगम योजना छत्तीसगढ़मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना 
Skill India Digital Free Certificate Coursesराष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना

2 thoughts on “पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना 2024 – क्या है, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | PM Vishwakarma Kaushal Samman Yojana (PM-Vikas)”

Leave a Comment