WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

बिहार सब्जी विकास योजना 2024 – 75% सब्सिडी | Bihar Sabji Vikas Yojana

(Bihar Sabji Vikas Yojana) (Subsidy, Online Apply, Registration Form pdf, Eligibility, Documents, Official Website, Helpline Number, Latest News, Status, Last Date) बिहार सब्जी विकास योजना 2024: सब्सिडी, ऑनलाइन आवेदन, रजिस्ट्रेशन फॉर्म pdf, पात्रता, दस्तावेज, अधिकरिक वेबसाइट, हेल्पलाइन नंबर, ताज़ा खबर, स्टेटस, अंतिम तिथि

Join Telegram group Join Now

Table of Contents

Bihar Sabji Vikas Yojana 2024

योजना का नामसब्जी विकास योजना
किस राज्य में लॉन्च की गईबिहार राज्य
लॉन्च की डेटअक्टूबर, 2023
लाभार्थीबिहार के कुछ जिलों में लॉन्च की गई है पटना, मगध और तिरहुत
उद्देश्यबिहार के किसानों के लिए सब्जी उत्पादन की ओर आकर्षित करना
वेबसाइटhttps://horticulture.bihar.gov.in/

बिहार सब्जी विकास योजना क्या हैं?

बिहार सब्जी विकास योजना एक सरकारी योजना है जो सब्जी की खेती को बढ़ावा देने के लिए बनाई गई है। इस योजना के तहत, किसानों को सब्जियों के बीज, उर्वरक, और अन्य कृषि उपकरणों पर सब्सिडी प्रदान की जाती है। इसके अलावा, किसानों को सब्जी की खेती के लिए तकनीकी सहायता भी प्रदान की जाती है।

बिहार सब्जी विकास योजना में अनुदान

बिहार सब्जी विकास योजना के तहत, किसानों को सब्जियों के बीज, उर्वरक, और अन्य कृषि उपकरणों पर अनुदान प्रदान किया जाता है। अनुदान की दरें निम्नलिखित हैं:

  • सब्जियों के बीज पर अनुदान: 75%
  • उर्वरक पर अनुदान: 50%
  • अन्य कृषि उपकरणों पर अनुदान: 25%

बिहार सब्जी विकास योजना में उत्पादन में शामिल की गई सब्जियां

बिहार सब्जी विकास योजना के तहत, निम्नलिखित सब्जियों के उत्पादन को प्रोत्साहित किया जाता है:

  • मौसमी सब्जियां: आलू, प्याज, टमाटर, बैंगन, लौकी, खीरा, कद्दू, और करेला।
  • गर्मी के मौसम की सब्जियां: मिर्च, भिंडी, और धनिया।
  • शीतकालीन सब्जियां: गोभी, फूलगोभी, ब्रोकोली, और मूली।

इन सब्जियों को उत्पादन में शामिल करने का उद्देश्य राज्य में सब्जी उत्पादन में वृद्धि करना और किसानों की आय बढ़ाना है।

बिहार सब्जी विकास योजना कहां लागू होगी

बिहार सब्जी विकास योजना का वर्तमान में केवल पटना, मगध, और तिरहुत प्रमंडल के जिलों में लागू किया जा रहा है। इन जिलों में योजना के तहत लगभग 1 लाख किसानों को लाभान्वित करने का लक्ष्य रखा गया है।

सब्जी विकास योजना के उद्देश्य

सब्जी विकास योजना के उद्देश्य निम्नलिखित हैं:

  • सब्जी उत्पादन में वृद्धि करना: इस योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य में सब्जी उत्पादन में वृद्धि करना है। इस उद्देश्य को प्राप्त करने के लिए, योजना के तहत किसानों को सब्जियों के बीज, उर्वरक, और अन्य कृषि उपकरणों पर सब्सिडी प्रदान की जाती है।
  • किसानों की आय बढ़ाना: सब्जी उत्पादन में वृद्धि से किसानों की आय भी बढ़ती है। इस योजना के तहत किसानों को सब्जियों की खेती के लिए आवश्यक सहायता प्रदान की जाती है, जिससे उनकी आय बढ़ती है।
  • सब्जियों की उपलब्धता में वृद्धि करना: सब्जी उत्पादन में वृद्धि से सब्जियों की उपलब्धता में भी वृद्धि होती है। इस योजना के तहत सब्जियों के उत्पादन को बढ़ावा दिया जाता है, जिससे सब्जियां अधिक मात्रा में उपलब्ध होती हैं।
  • सब्जियों की कीमतों को कम करना: सब्जियों की उपलब्धता में वृद्धि से सब्जियों की कीमतों में कमी आती है। इस योजना के तहत सब्जियों के उत्पादन को बढ़ावा दिया जाता है, जिससे सब्जियां अधिक मात्रा में उपलब्ध होती हैं और कीमतें कम होती हैं।

बिहार सब्जी विकास योजना के लाभ एवं विशेषताएं

बिहार सब्जी विकास योजना के लाभ एवं विशेषताएं निम्नलिखित हैं:

बिहार सब्जी विकास योजना के लाभ

  • सब्जी उत्पादन में वृद्धि: इस योजना के तहत किसानों को सब्जियों के बीज, उर्वरक, और अन्य कृषि उपकरणों पर सब्सिडी प्रदान की जाती है। इससे किसानों को सब्जी उत्पादन की लागत कम हो जाती है और उत्पादन में वृद्धि होती है।
  • किसानों की आय बढ़ाना: सब्जी उत्पादन में वृद्धि से किसानों की आय भी बढ़ती है। इससे किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार होता है।
  • सब्जियों की उपलब्धता में वृद्धि: सब्जी उत्पादन में वृद्धि से सब्जियों की उपलब्धता में भी वृद्धि होती है। इससे लोगों को ताजी और पौष्टिक सब्जियां आसानी से उपलब्ध हो जाती हैं।
  • सब्जियों की कीमतों को कम करना: सब्जियों की उपलब्धता में वृद्धि से सब्जियों की कीमतों में कमी आती है। इससे लोगों को सब्जियां सस्ते में मिल जाती हैं।

बिहार सब्जी विकास योजना की विशेषताएं

  • सब्जियों के उत्पादन को बढ़ावा: इस योजना के तहत सब्जियों के उत्पादन को बढ़ावा दिया जाता है। इसके लिए किसानों को सब्जियों के बीज, उर्वरक, और अन्य कृषि उपकरणों पर सब्सिडी प्रदान की जाती है।
  • किसानों की आय बढ़ाने पर ध्यान: इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों की आय बढ़ाना है। इसके लिए किसानों को सब्जियों की खेती के लिए आवश्यक सहायता प्रदान की जाती है।
  • सब्जियों की उपलब्धता और कीमतों को कम करने पर ध्यान: इस योजना के तहत सब्जियों की उपलब्धता और कीमतों को कम करने पर भी ध्यान दिया जाता है। इसके लिए सब्जियों के उत्पादन को बढ़ावा दिया जाता है।

बिहार सब्जी विकास योजना की पात्रता

  • किसान बिहार का निवासी होना चाहिए।
  • उसके पास खेती में न्यूनतम 0.2 और अधिकतम 2.6 एकड़ जमींन भी होनी चाहिए।
  • बिहार सरकार द्वारा जिस जिले में योजना निर्धारित की गई हैं उस जिले का स्थाई निवासी भी होना चाहिए।
  • इस योजना का लाभ रैयत और गैर रैयत दोनों प्रकार के लोग उठा सकते हैं।
  • किसान सब्जी उत्पादन के लिए कृषि विभाग से अनुमति प्राप्त होना चाहिए।

बिहार सब्जी विकास योजना के दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • वोटर आई
  • राशन कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक
  • गैर रैयत के लिए इकरारनामा करना होगा।
  • फोटोस्

बिहार सब्जी विकास योजना ऑनलाइन आवेदन

  1. सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. साइट पर जाने के बाद ही सूचना के तहत ऑनलाइन आवेदन करने का लिंक मिलेगा जिस पर आपको क्लिक करना होगा
  3. क्लिक करने के बाद संबंधित जानकारी जो मांगी गई हैं उसे ध्यान पूर्वक भर देना है।
  4. ध्यान पूर्वक भर देने के बाद जो भी डॉक्यूमेंट मांगे गये हैं उन्हें भी अटैच करवा देना हैं और उसके बाद फॉर्म को चेक कर लेना हैं।
  5. फिर आपको एक नंबर प्राप्त होगा दी बी टी नंबर प्राप्त होगा उस नंबर को भरने के बाद उसे सबमित कर देना है।
  6. सबमित हो जाने के बाद आपकी आवेदन प्रक्रिया संपन्न हो गई हैं।

सब्जी विकास योजना से सम्बंधित मुख्य बातें

  • इस योजना अन्तर्गत उच्च मूल्य के सब्जी का बिचड़े (ब्रोकोली, कलर कैप्सीकम तथा बीज रहित खीरा एवं बैगन) हाईब्रिड सब्जी का बीज (फूलगोभी एवं बंधागोभी-रबी मौसम तथा मिर्च, बैगन एवं लौकी-गरमा) प्याज का बीज, आलू का बीज इकाई लागत का 75 प्रतिशत सहायतानुदान पर दिया जायेगा।
  • प्याज का NHRDF 3 एवं 4 तथा आलू से चिप्स बनाने वाली प्रभेद कुफरी चिपसोना का बीज उपलब्ध कराया जायेगा।
  • योजना अन्तर्गत इकाई लागत का 75 प्रतिशत सहायतानुदान पर प्याज भंडारण संरचना के निर्माण कराये जाने का प्रावधान किया गया है।
  • प्याज भंडारण संरचना का अनुमोदित मॉडल एस्टीमेट एवं संरचना का नक्शा (भूमि संरक्षण निदेशालय द्वारा) तथा मॉडल एस्टीमेट एवं संरचना का नक्शा (बी.ए.यू.,सबौर द्वारा) दिए गए Link पर उपलब्ध है, जिसे आसानी से Download किया जा सकता है।
  • योजना अन्तर्गत सब्जी में किसी एक उप अवयव मे हीं निर्धारित सीमा के तहत् लाभ ले सकते हैं।
  • सब्जी का बिचड़ा प्रत्येक कृषक को न्यूनतम 1000 एवं अधिकतम 10,000 तक सहायतानुदान पर दिया जायेगा।
  • सब्जी का बीज वाले कृषकों को न्यूनतम 0.25 एकड़ एवं अधिकतम 2.5 एकड़ तक का बीज सहायतानुदान पर दिया जायेगा।
  • सब्जी का बिचड़ा की उपलब्धता सेन्टर ऑफ एक्सीलेंस (सब्जी), चंड़ी नालन्दा से तथा सब्जी का बीज की उपलब्धता, बिहार राज्य बीज निगम, पटना के माध्यम से उपलब्ध कराया जायेगा।
  • इस योजना का लाभ रैयत कृषक, जमीन के कागजात के आधार तथा गैर रैयत कृषक एकरारनामा के आधार पर ले सकते है। एकरारनामा का प्रारूप दिए गए Link पर उपलब्ध है,जिसे आसानी से डाउनलोड किया जा सकता है।
  • उपर्युक्त बिन्दू से यदि इच्छुक कृषक सहमत हो, तो नियमानुसार सॉफ्टवेयर में आवेदन हेतु आमंत्रित है।
होमपेजयहां क्लिक करें
अधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें

FAQ

सब्जी विकास योजना क्या है?

सब्जी के उत्पादन में वृद्धि करना इसलिए इस योजना  को चालू किया गया हैं।

सब्जी विकास योजना के तहत लाभ उठाने के लिए कितनी जमीन की आवश्यकता हैं?

न्यूनतम 0.2 एकड़ जमीन।

सब्जी विकास योजना किस राज्य में शुरू की गई?

बिहार राज्य के कुछ जिलों में।

सब्जी विकास योजना के तहत सरकार कितने परसेंट का अनुदान देगी?

75 परसेंट का अनुदान देगी

सब्जी विकास योजना के तहत बिहार सरकार किस प्रकार की सब्जी के उत्पादन के लिए प्रोत्साहित कर रही हैं?

जो सब्जी ज्यादा लाभ प्रदान करेगी। उन्हीं के उत्पादन के लिए प्रोत्साहित कर रही हैं।

अन्य महत्वपूर्ण योजना

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजनापीएम किसान योजना 
नरेगा जॉब कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें?राष्ट्रीय वयोश्री योजना
छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री ज्ञान प्रोत्साहन योजनासुकन्या समृद्धि योजना
प्रधानमंत्री जन धन योजनापीएम मुद्रा योजना 
पीएम श्री योजनाप्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना
हरियाणा पराली प्रोत्साहन योजना यूपी पत्रकार आवास योजना
रोजगार संगम योजना पंजाब प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना
रोजगार संगम योजना हरियाणास्वाधार योजना महाराष्ट्र
रोजगार संगम योजना छत्तीसगढ़मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना 
Skill India Digital Free Certificate Coursesराष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना

Leave a Comment